दक्षिण सिवनी वनमंडल

सामान्य परिचय :


जिले का भौगोलिक क्षेत्रफल 8752 वर्ग किलोमीटर में से 3743.049 वर्ग किलोमीटर दक्षिण सिवनी सामान्‍य वनमण्‍डल के अंतर्गत आता है। जिसमें 75072.843 हे. वनक्षेत्र है जो कि कुल वनक्षेत्र का 20.05 प्रतिशत है। वनमण्‍डल की भौगोलिक स्थिति 21 35’ 43.10” से 22 32’ 58.09” उत्‍तरी अक्षांश एवं 75 18’ 3.24” से 80 06’ 3.95” पूर्वी देशांतर है जो कि समुद्र तल से 340 मीटर से 845 मीटर तक की ऊँचाई पर स्थित है। दक्षिण सिवनी सामान्‍य वनमण्‍डल का गठन 01 दिसम्‍बर, 1962 को किया गया था। मध्‍यप्रदेश शासन वन विभाग के दिनांक 07/07/2000 द्वारा जारी वनमण्‍डल के पुर्नगठन की अधिसूचना के अनुसार उत्‍तर सिवनी सामान्‍य वनमण्‍डल के केवलारी परिक्षेत्र का संपूर्ण भाग तथा छपारा तथा कहानी परिक्षेत्र का आंशिक भाग दक्षिण सिवनी सामान्‍य वनमण्‍डल के अंतर्गत सम्मिलित करते हुये क्रमश: बण्‍डोल, केवलारी एवं उगली परिक्षेत्र सम्मिलित किये गये हैं। वनमण्‍डल चारों ओर से वनक्षेत्र से घिरा हुआ है। एक ओर महाराष्‍ट्र राज्‍य की सीमा है तथा दूसरी ओर दक्षिण बालाघाट वनमण्‍डल, तीसरी ओर मण्‍डला जिले की सीमा है जबकि अन्‍य सीमा उत्‍तर सिवनी सामान्‍य एवं पेंच राष्‍ट्रीय उद्यान की सीमा से लगा हुआ है। वनमण्‍डल के अंतर्गत मुख्‍यत: बैनगंगा, पेंच, बावनथडी एवं हिर्री नदियाँ बहती हैं। वनमण्‍डल के अंतर्गत सागौन एवं मिश्रित प्रजाति का वन पाया जाता है साथ ही बाँस के भी अच्‍छे वन हैं। वनमण्‍डल के अंतर्गत वर्ष 2004-05 के दौरान सामूहित बाँस पुष्‍पन होने के कारण वर्तमान में बाँस का उत्‍पादन कर हो रहा है। बाँस का उत्‍पादन कम होने के कारण निकटवर्ती जिले बालाघाट से बाँस प्राप्‍त कर निस्‍तार एवं बसोडों को प्रदाय किया जाता है। इस वनमण्‍डल के अन्‍तर्गत बसोडों की जनसंख्‍या भी पाई जाती है जिनका मुख्‍य व्‍यवसाय बाँस के बर्तन तैयार कर विक्रय करने का है। शासन के निर्देशानुसार प्रत्येक बसोड परिवार के नाम से बही संधारित की जाती है एवं निर्देशानुसार बाँस का प्रदाय कर इन्‍द्राज किया जाता है। वनमण्‍डल के अंतर्गत बरघाट, परिक्षेत्र में लाख उत्‍पादन होता है। वनमण्‍डल का पुर्नगठन अधिसूचना क्रमांक एफ-25/25/2013/10-3 दिनांक 20/01/2014 को किया गया है। प्रशासकीय द्दष्टि से वनमण्‍डल को 8 परिक्षेत्र सिवनी, रूखड, बरघाट, कुरई, खवासा, केवलारी, कान्‍हीवाडा एवं बण्‍डोल परिक्षेत्रों में विभाजित करते हुए क्रमश: सिवनी, कुरई एवं केवलारी उपवनमण्‍डल में विभाजित किया गया है।

वनमण्‍डल के अंतर्गत जिला यूनियन दक्षिण सिवनी सामान्‍य वनमण्‍डल कार्यरत् हैं जिसमें 24 प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समितियों द्वारा प्रतिवर्ष तेंदूपत्‍ता एवं अन्‍य लघुवनोपज का संग्रहण किया जाता है। जिला यूनियन की सभी प्राथमिक लघु वनोपज समितियों का विक्रय अग्रिम में हो जाता है। इस जिला यूनियन के अंतर्गत उत्‍तर गुणवत्‍ता का तेंदूपत्‍ता निर्धारित लक्ष्‍य से अधिक संग्रहित किया जाता है। वनमण्‍डल की पुनरीक्षित कार्य आयोजना श्री चितरंजन त्‍यागी, भा.व.से., मुख्‍य वन संरक्षक द्वारा तैयार की गई है। जो वर्ष 2015-16 से 2024-25 तक के लिये प्रभावशील रहेगी। कार्य आयोजना की स्‍वीकृति भारत सरकार पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के पत्र क्रमांक/12-20/2001/(फार)/060 दिनांक 15/02/2016 से प्राप्‍त हुर्इ है।

वनमंडल के वनक्षेत्र का विवरण :


क्र. उप वनमंडल परिक्षेत्र प. स. बीट रकबा (हे. में) कुल रकबा (हे. में) वनखण्‍ड वनक्षेत्र वर्ग कि.मी. भौगोलिक क्षेत्र वर्ग कि.मी.
आरक्षित कक्ष 260 संरक्षित कक्ष 120
1. सिवनी सिवनी 05 15 4601.92 2265.59 6867.51   आर 581.14 पी 169.56 4521.494
2. रूखड 05 16 5214.326 1575.800 6790.126 आर-93 पी-105
3. बरघाट 05 15 10020.160 1157.540 11177.700
4. केवलारी केवलारी 04 12 9524.840 1775.086 11299.926
5. बंडोल 04 12 5273.569 1085.673 6359.242
6. कान्हीवाडा 04 12 9225.472 468.497 9693.969  
7. कुरई कुरई 04 12 8544.560 3140.33 11988.98
8. खवासा 04 13 5711.050 4408.200 11195.39  
  03 08 35 109 58115.897 16956.246 75072.843 198 750.73 4521.494

वनमंडल का अमला :


क्र. पदस्थ अधिकारी का नाम एवं पद पदस्थिति दिनांक
1. श्री टी.एस. सुलिया, भा.व.से. वनमंडल अधिकारी 30/12/2015
2. श्री टी.बी. पाण्डेय, राज्‍य वन सेवा, उप व.मं.अ. सिवनी 07/07/2015
3. श्री जी.के. वरकडे, राज्‍य वन सेवा, उप व.मं.अ. कुरई 02/11/2010
4. श्री आर.एन. साहू, राज्‍य वन सेवा, उप व.मं.अ. केवलारी 17/06/2015
5. श्री के.के. तिवारी, वनक्षेत्रपाल प.अ. सिवनी 01/06/2015
6. श्रीमती शैलजा ठाकुर जागेत, वनक्षेत्रपाल प.अ. रूखड 06/06/2015
7. श्री राजू सिंह राजपूत, वनक्षेत्रपाल, प.अ. खवासा 10/07/2015
8. श्री इदेश अचाले, कुरई परिक्षेत्र 08/05/2016
9. श्री बी.एस. मरावी, वनक्षेत्रपाल प.अ. बरघाट 04/05/2011
10. श्री भजन लाल पाल, वनक्षेत्रपाल प.अ. केवलारी 14/12/2015
11. श्री एम.एल. डेहरिया, वनक्षेत्रपाल प.अ. बण्‍डोल 16/12/2015
12. श्री सचिन सयदे, प.अ. कान्‍हीवाडा 21/07/2015

राज्य वन विकास अभिकरण योजना :


वर्ष 2010 से राज्‍य वन विकास योजना क्रियान्वित है योजना के अंतर्गत वन विकास अभिकरण दक्षिण सिवनी सा. वनमण्‍डल में निम्‍नानुसार कार्य कराये जा रहे हैं। कार्यों की स्थिति जनवरी 2016 :-
योजना रोपण क्षेत्र (हे.) योजना अवधि समिति संख्या आवंटित राशि उपलब्ध कराई गई राशि व्यय राशि

ए.एन.आर.

सिल्वी पाश्चर

300

100

2010-11 से 2014-15 11 85.00 85.00 85.00
ए.एन.आर. 110 2013-14 से 2016-17 03 28.66 28.66 28.66
ए.एन.आर. 60 2014-15 से 2018-19 02 13.16 13.16 10.76

वनग्राम विकास :


वन विकास अभिकरण के अंतर्गत वर्ष 2006-07 से वन ग्राम विकास योजना लागू हुर्इ है। योजना के तहत वनग्राम वासियों की मूलभूत सुविधाओं हेतु तालाब निर्माण, स्‍टापडेम निर्माण, सड़क निर्माण, कुँआ निर्माण, वाटर हार्वेस्टिंग एवं नल कूप खनन आदि कार्य कराये जाते हैं। योजना के अंतर्गत प्राप्‍त राशि से वनमण्‍डल के वर्तमान वनग्रामों में विभिन्‍न विकास कार्य कराये गये हैं -
चरण वनग्राम संख्या प्राप्त राशि व्यय शेष राशि स्वीकृत कार्य पूर्ण कार्य शेष कार्य
प्रथम एवं द्वितीय चरण 07 23950246.00 23941926.00 8320.00 63 63 00

राज्य बॉंस मिशन योजना :


भारत सरकार से प्राप्‍त राशि के अंतर्गत राज्‍य बाँस मिशन योजना वर्ष 2014 से वनमण्‍डल में क्रियान्वित की गई है। योजनान्‍तर्गत वर्ष 2014-15 में प्राप्‍त राशि से वनमण्‍डल में योजना प्रावधानों के अनुसार राष्‍ट्रीय बाँस मिशन के कार्य कराये गये हैं :-
क्र. स्वीकृत वर्ष विवरण / मॉडल रकबा कुल प्राप्त राशि व्यय राशि शेष राशि रिमार्क
1. 2014-15 वनक्षेत्र 150 47.25 निरंक 47.25 क्षेत्र उपलब्ध नहीं है ।
2. 2014-15 राजस्व क्षेत्र 200 20.00 निरंक 20.00 क्षेत्र उपलब्ध नहीं है ।
3. 2014-15 टिश्यू कल्चर 1 1.78 1.67 0.11 कार्य प्रगति पर
4. 2014-15 बॉंस शिल्पकार - 0.43 0.43 00 कार्य पूर्ण
राशि लाख रूपये में

राजस्व :


राजस्‍व प्राप्तियाँ :- इमारती लकड़ी एवं बाँस के राजकीय व्‍यापार के अंतर्गत विगत 05 वर्षों में प्राप्‍त राजस्‍व निम्‍नानुसार है :-
वर्ष राजस्व
लक्ष्य उपल्ब्धि
2013-14 2.50 1.88
2014-15 2.10 1.60
2015-16 अप्राप्त 1.92
राशि लाख रूपये में

वर्ष 2015-16 में कार्य-आयोजना के प्रावधानों के अंतर्गत ड्यू कूपों का विवरण :


विषयांतर्गत में लेख है कि वर्ष 2015-16 में इस वनमण्‍डल की प्रचलित कार्य आयोजना अनुसार काष्‍ट कूप न. XII का निम्‍न रकबा विदोहन हेतु ड्यू है।
क्र. वनमंडल का नाम कार्य वृत्त कूपों की संख्या कार्य करने योग्य कार्य करने योग्य नहीं कुल (क्षेत्र. हे. में)
1. दक्षिण सिवनी वनमंडल प्रवरण सह सुधार I एवं II 72 6242.520 329.830 6572.350

प्रबंधन वृत्त :


कूप क्रमांक प्रबंधन वृत्त उपचार चक्र उपचार श्रेणी सम्मिलित कक्ष क्षेत्रफल हे. में प्रतिशत
I to XX प्रवरण सह सुधार (SCI) 20 35 290 65967.66 87.50
I to XX पुनर्स्थापना (RDF) 20 25 84 8421.25 11.20
  सागौन वृक्षारोपण - - - 1005.855 1.34
A to D बॉंस परस्परव्यापी (Overleaping) 4 15 114 15023.14 19.99
  वनग्राम एवं अन्य (संख्या) 07 - - 7289.35 9.69

अधिसूचित वनखंड एवं कक्ष :


अधिसूचना का विवरण प्रकार वनखंड कक्ष क्षेत्रफल (हे.)
धारा 20 के तहत अधिसूचित आरक्षित 93 260 58115.627
धारा 4 के तहत अधिसूचित संरक्षित 105 120 16956.946
धारा 29 के तहत अधिसूचित        
  योग : - 198 380 75072.837

सीमारेखा / मुनारे : -


मुनारा संख्या सीमालाईन (कि.मी. में)
  प्राकृतिक कृतिम योग
8905 292.34 1473.74 1766.08

वनग्राम : -


क्र. परिक्षेत्र सम्मिलित वनग्राम वनग्राम की संख्या राजस्व ग्रामों के संख्या
1. बरघाट नानीकन्हार, अम्मामाई 02 135
2. कान्हीवाडा मशानबर्रा, जाम 02 182
3. केवलारी पण्डरापानी 01
4. सिवनी     289
5. बण्डोल    
6. कुरई     183
7. खवासा    
8. रूखड बकरमपाठ, रीछी 02
      07 789

अतिक्रमण : -


दिनांक 24/10/1980 तक के पात्र अतिक्रमण की जानकारी
वर्ष 1980 तक के अतिक्रामक वर्ष 1988 के बाद के अतिक्रामक कालम क्रमांक 3 के पात्र आदिवासी अतिक्रामकों की कालम क्रमांक 5 एवं 7 के अपात्र आदिवासी अतिक्रामकों की
पात्र रकबा हे. में अपात्र रकबा हे. में अपात्र रकबा हे. में संख्या रकबा हे. में संख्या रकबा हे. में
28 31.480 50 43.440 35 12.190 12 18.32 28 43.697
दिनांक 24/10/1980 तक के पात्र अतिक्रमण
क्र. श्रेणी कुल पात्र अतिक्रामक रकबा (हे. में)
1. 31/12/76 के पूर्व के अतिक्रमण जिनके पट्टे प्रदाय किये जा चुके हैं 24 17.802
2. 1/1/77 से 6/3/79 तक नियमित किये जाने हैं 22 24.910
3. 6/3/79 से 24/10/80 नियमित किये जाने हैं 06 6.570

वन सुरक्षा :


प्रशासकीय प्रबंधन की द्दष्टि से वनमंडल को परिक्षेत्र तथा परिक्षेत्र को बीटों में विभाजित किया गया है। प्रत्‍येक बीट में एक बीटगार्ड पदस्‍थ रहता है, जिसका कर्त्‍तव्‍य बीट के अंतर्गत आने वाले वनक्षेत्रों की सुरक्षा करना रहता है, जिसके लिये अपने बीट का भ्रमण कर वन अपराधों पर नियंत्रण रखता है तथा वन अपराधों को पकड़कर अपराध पंजीबद्ध करता है। बीट गार्ड के कार्यों के पर्यवेक्षण के लिये परिक्षेत्र सहायक तथा परिक्षेत्र अधिकारी की पदस्थिति की जाती है। वनमंडल के अंतर्गत कई बीट वन अपराधों की द्दष्टि से अत्‍यन्‍त संवेदनशील होते हैं, जिनकी सुरक्षा एक बीटगार्ड द्वारा किया जाना संभव नहीं हो पाता है। ऐसे संवेदनशील क्षेत्रों में वन चौकियाँ स्‍थापित की गई है। प्रत्‍येक वनचौकी में संवेदनशी 4-5 बीटों को शामिल किया गया है। वनचौकी में एक वनपाल तथा 4 वनरक्षकों की पदस्थिति की जाती है। वन चौकियों में वाहन व्‍यवस्‍था एवं संचार साधन के अंतर्गत मोबाईल, वायरलेस सेट भी उपलब्‍ध कराये गये हैं, जिनके द्वारा गश्‍त कर वन अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण स्‍थापित किया जाता है।
दर्ज वन अपराध प्रकरण
वर्ष पंजीबद्ध वन अपराध प्रकरण संख्या वन अपराध प्रकरणों में जप्त वनोपज मात्रा घ.मी.
2013 1442 71.935
2014 1021 54.036
2015 1130 (अवैध कटाई 120 बीट निरीक्षण 951) 134.355
मार्च 2016 तक 367 52.360

वन सुरक्षा चौकी :


अपर प्रधान मुख्‍य वन संरक्षक, (संरक्षण) म.प्र. भोपाल के पत्र एफ-12/2006/10-10/117 दिनांक 10/01/07 के निर्देशों के पालन में वनमण्‍डल में स्‍थापित वन चौकियाँ निम्‍नानुसार हैं -
चौकी संख्या परिक्षेत्र का नाम वनचौकी का नाम
09 रूखड धोबीसर्रा
खवासा हाथीगढ
कान्हीवाडा ढूटेरा
कुरई पीपरवानी
केवलारी रूमाल
दूधिया
बण्डोल जाम
सागर
बरघाट टकटुआ

संपर्क करें
  • कार्यालय अ.प्र.मु.व.सं. (कक्ष-सूचना प्रौद्योगिकी),आधार- तल खंड ‘डी’, सतपुडा भवन, भोपाल- 462004
  • दूरभाष : +91 (0755) 2674302
  • फैक्स: +91 0755-2555480